‘विलियम्स सिस्टर्स’ को खेलते देख नाओमी ओसाका के पापा ने बेटी को चैंपियन बनाने की ठानी थी

जापान की स्टार महिला खिलाड़ी नाओमी ओसाका ने यूएस ओपन के महिला एकल फाइनल में बेलारूस की विक्टोरिया अजारेंका को 1-6, 6-3, 6-Three से मात दी। इस मुकाबले को देखने वालों में ज्यादातर मैच अधिकारी, कुछ पत्रकार और स्टाफ के सदस्य थे। कोरोना के कारण मुकाबला बेहद कम दर्शकों की मौजूदगी में खेला गया।

अजारेंका को हराकर ओसाका बनीं दूसरी बार US ओपन महिला चैंपियन

जापान की स्टार महिला खिलाड़ी नाओमी ओसाका ने यूएस ओपन के महिला एकल फाइनल में बेलारूस की विक्टोरिया अजारेंका को 1-6, 6-3, 6-Three से मात दी। ओसाका ने दूसरी बार यूएस ओपन खिताब जीता, वह 2018 में भी चैंपियन बनी थीं।

ऐसी रही फाइनल रैली, जीत के बाद भावुक हो गईं ओसाका

Three ग्रैंडस्लैम जीतने वालीं पहली एशियाई

3-

ओसाका के करियर का यह तीसरा ग्रैंडस्लैम खिताब है। वह तीन ग्रैंडस्लैम जीतने वाली पहली एशियाई महिला बन गई हैं। उन्होंने चीन की ली ना को पीछे छोड़ा जिनके नाम 2 ग्रैंडस्लैम खिताब हैं।

विलियम्स सिस्टर्स बनीं प्रेरणा

'विलियम्स सिस्टर्स' को खेलते देख नाओमी ओसाका के पापा ने बेटी को चैंपियन बनाने की ठानी थी

ओसाका के पिता लियोनार्ड फ्रैंकोइस हैती के रहने वाले हैं। उन्होंने विलियम्स सिस्टर्स (सेरेना और वीनस) को खेलते देख अपनी बेटी को चैंपियन बनाने की ठानी थी। ओसाका के पिता ने 1999 फ्रेंच ओपन में जब विलियम्स सिस्टर्स को खेलते देखा, तो ठान लिया कि अपनी बेटी को भी चैंपियन टेनिस खिलाड़ी बनाना है। ओसाका की बहन मैरी भी प्रफेशनल टेनिस प्लेयर हैं। हालांकि ओसाका ने 2018 में सेरेना को हराकर ही यूएस ओपन खिताब जीता था।

जीत के बाद याद आए मां के साथ यादगार लम्हे

पहला सेट हारने के बाद जीता खिताब

1994 के बाद इस तरह जीतने वालीं पहली महिला

1994-

ओसाका पहला सेट 1-6 से हार गई थीं, तब लग रहा था कि वह लय में नहीं है लेकिन उन्होंने जबर्दस्त वापसी करते हुए जीत दर्ज की। वह पहला सेट हारने के बाद यूएस ओपन एकल फाइनल जीतने वालीं 1994 के बाद पहली महिला बन गईं।

​ओसाका के करियर का तीसरा ग्रैंडस्लैम

'विलियम्स सिस्टर्स' को खेलते देख नाओमी ओसाका के पापा ने बेटी को चैंपियन बनाने की ठानी थी

ओसाका ने अपने करियर का यह तीसरा ग्रैंडस्लैम खिताब जीता। उन्होंने इससे पहले 2018 में यूएस ओपन और पिछले साल ऑस्ट्रेलियन ओपन महिला एकल खिताब अपने नाम किए थे।

जीत के बाद स्पेशल मेसेज

‘ब्लैक लाइव्स मैटर’ को सपॉर्ट, अलग-अलग नाम के मास्क पहनकर खेलीं

.

Source link